Why South pole of moon is important

image by - social media

भारत के Chandrayaan-3 की 23 अगस्त को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर लैंडिंग होगी. 

image by - social media

इस जगह पर अभी तक दुनिया का भी देश अपने यान की लैंडिंग नहीं करा पाया है.

image by - social media

विशेषज्ञों की मानें तो चंद्रमा के South Pole पर लैंडिंग करना चुनौतियों से भरा है.  यहां अंधेरा ज्यादा होने की वजह से किसी भी देश ने अपना यान नहीं उतारा है

image by - social media

South Pole के सबसे नजदीक अगर किसी देश ने अपना यान उतारा तो वह अमेरिका है. 10 जनवरी 1968 में अमेरिका ने सर्वेयर-7 स्पेसक्राफ्ट को South Pole के पास उतारा था

image by - social media

ISRO से पहले South Pole पर रूस का लूना-25 लैंड करने वाला था, लेकिन 20 अगस्त को वह चंद्रमा पर हादसे का शिकार हो गया और मिशन फेल हो गया.

image by - social media

भारत ने अपने यान को उतारने के लिए South Pole चुना है. यह भारत की खास रणनीति है. चंद्रमा के इस इलाके में सबसे ज्यादा पानी और मिनरल है, जिस पर मानव की आजीविका चलती है

image by - social media

जानकारों की मानें तो अगर भारत अपनी मुहिम में सफल होता है तो भारत जल्द ही चंद्रमा पर अपनी कॉलोनी बना पाएगा वहां.

image by - social media